जीव विज्ञान (314) | Biology 314 NIOS Free Solved Assignment 2021 – 22 (Hindi Medium)

जीव विज्ञान (314)

शिक्षक अंकित मूल्यांकन पत्र

कुल अंक: 20

टिप्पणी: (i) सभी प्रश्नों के उत्तर देने अनिवार्य है। प्रत्येक प्रश्न के अंक उसके सामने दिए गए हैं। (ii) उत्तर पुस्तिका के प्रथम पृष्ठ पर अपना नाम अनुक्रमांक अध्ययन केंद्र का नाम और विषय स्पष्ट शब्दों में लिखिए

Table of Contents

1. निम्नलिखित प्रश्नों में से किसी एक प्रश्न का उत्तर लगभग 40 से 60 शब्दों में दीजिए।  2 

(a) (i) किन अंगको मे DNA पाए जाते हैं? (पाठ – 4 देखें)

(ii) शरीर में WBC (श्वेत रुधिर कोशिका) के कार्य क्या है? (पाठ – 4 देखें)

(iii) प्राणी कोशिकाओं में पाए जाने वाले परंतु पादक कोशिकाओं में नहीं, ऐसे अंगक के कार्य क्या है? (पाठ – 4 देखें)

(iv) कौन से अंगक में कोशिकीय श्वसन के लिए एंजाइम होता है। (पाठ – 4 देखें)

उत्तर: किसी एक प्रश्न का उत्तर आवश्यक है 

(b) कारण बताइए कि ऐसा क्यों होता है

(i) जंतुओं के श्वसन अंगों की भांति पौधों में श्वसन – अंग नहीं होते। 

(ii) रात के समय किसी पेड़ के नीचे सोने की सलाह क्यों नहीं दी जाती? (पाठ – 12 देखें)

उत्तर: जैव रासायनिक प्रक्रिया, जो कोशिकाओं के भीतर होती है और ऊर्जा प्राप्त करने के लिए भोजन का ऑक्सीकरण करती है, सेलुलर श्वसन के रूप में जानी जाती है। विभिन्न एंजाइम (जैव उत्प्रेरक) इस प्रक्रिया को उत्प्रेरित करते हैं। वह प्रक्रिया जिसके द्वारा कोशिकाएं जटिल खाद्य अणुओं से ऊर्जा प्राप्त करती हैं, यह इस बात पर निर्भर करती है कि उनके वातावरण में ऑक्सीजन मौजूद है या नहीं और इसका उपयोग किया जाता है या नहीं। जब ऑक्सीजन का उपयोग किया जाता है तो श्वसन को एरोबिक कहा जाता है और जब ऑक्सीजन का उपयोग नहीं किया जाता है तो अवायवीय कहा जाता है। रात को पेड़ के नीचे सोना उचित नहीं है क्योंकि पौधों में दिन के समय प्रकाश संश्लेषण के दौरान निकलने वाला O2 श्वसन के लिए उपलब्ध होता है। हालांकि, प्रकाश संश्लेषण की दर श्वसन की तुलना में अधिक होती है। इस प्रकार पौधे दिन में अतिरिक्त O2 छोड़ते हैं। हालांकि, ये रात में केवल CO2 छोड़ते हैं क्योंकि सूर्य के प्रकाश के अभाव में प्रकाश संश्लेषण रुक जाता है। जानवर हर समय CO2 छोड़ते हैं।

2. निम्नलिखित प्रश्नों में से किसी एक प्रश्न का उत्तर लगभग 40 से 60 शब्दों में दीजिए।    2

(a) अंतरा कोशिकीय पाचन किसे कहते हैं अमीबा मैं अंतरा कोशिशकीया पाचन की पुष्टि हेतु लेबल किए गए चित्र द्वारा तीन चरणों में दर्शाइए। ऐसी घटना के लिए कौन सा शब्द प्रयोग में लाया जाता है। (पाठ – 13 देखें)

उत्तर: इंट्रासेल्युलर पाचन (इंट्रा = अंदर) पोषण के सभी पाँच चरण कोशिका के अंदर ही होते हैं, जैसे अमीबा, पैरामीशियम और अन्य एककोशिकीय जंतु।

सूक्ष्म जीवाणु जैसे खाद्य कण स्यूडोपोडिया (छद्म = असत्य, पोडिया = पैर) द्वारा एक खाद्य रिक्तिका (अंतर्ग्रहण) बनाने के लिए संलग्न (पकड़े गए) होते हैं।

साइटोप्लाज्म से एंजाइम जटिल भोजन को तोड़ने के लिए भोजन रिक्तिका में स्रावित होते हैं। 

(पाचन) पचा हुआ भोजन कोशिकाद्रव्य में अवशोषित हो जाता है। 

(अवशोषण) अवशोषित भोजन का उपयोग कोशिका में जहाँ भी आवश्यक होता है, किया जाता है। 

(मिलाना) जब भोजन की रसधानी कोशिका की सतह के पास आती है और फट जाती है, तो अपचित अअवशोषित भोजन निष्कासित हो जाता है।

(उत्सर्जन) खाद्य रिक्तिकाएं अस्थायी संरचनाएं हैं और हर बार जब अमीबा भोजन करता है, तो एक नई खाद्य रिक्तिका उत्पन्न होती है।

जैसा कि ऊपर उल्लेख किया गया है, सभी मुक्त रहने वाले एककोशिकीय जानवर इंट्रासेल्युलर पाचन करते हैं।

(b) एक अध्यापक ने सूक्ष्मदर्शी में एक बीजपत्री तथा द्विबीजपत्री मूलों के काट लगाए और छात्रों से 

(i) संवहन मंडल के 

(ii) बाह्यत्वचा व परिरंग पहचानने का आदेश दिया। दो ऐसे और विशिष्ट लक्षणों का उल्लेख कीजिए जिनसे आप उनके भिन्न रूप को पहचान पाएंगे। (पाठ – 3 देखें)

उत्तर: किसी एक प्रश्न का उत्तर आवश्यक है

3. निम्नलिखित प्रश्नों में से किसी एक प्रश्न का उत्तर लगभग 40 से 60 शब्दों में दीजिए।   2

(a) (i) जैवचौर्य और (ii) जैव पेटेंट शब्दों से आप क्या समझते हैं? (पाठ – 24 देखें)

उत्तर: (i) बायोपाइरेसी: पाइरेसी का अर्थ है चोरी। बायोपाइरेसी का अर्थ है अधिकृत किए बिना या पर्याप्त मुआवजा दिए बिना किसी अन्य देश के जैविक संसाधन का पेटेंट कराना या उसका दोहन करना। उदाहरण के लिए, एक समृद्ध विकसित देश किसी विकासशील देश के जैव संसाधन के बारे में औषधीय पौधे या पारंपरिक ज्ञान जैसे जैव संसाधन का पेटेंट करा सकता है। (ii) बायोपेटेंट: पेटेंट एक आधिकारिक दस्तावेज है। इस दस्तावेज़ का कब्ज़ा धारक को अपने आविष्कार का उपयोग करने या बेचने की अनुमति देता है। एक पेटेंट की अवधि 20 वर्ष होती हैं और पेटेंट धारक को कुछ उचित नियमों और शर्तों पर लाइसेंस प्राप्त करना होता है। भारतीय पेटेंट अधिनियम (1970) आविष्कार के लिए भोजन, दवा / दवाओं, मिश्र धातु, अर्धचालक आदि के रूप में उपयोग किए जाने के लिए पेटेंट प्रदान करता है।

(b) निम्नलिखित प्राणियों में पाए जाने वाले दो लक्षण बताए- कुत्ता, गिलहरी, मानव और हाथी। ये सभी जिस वर्ग (क्लास) में आते हैं उन वर्गों के नाम भी लिखे। (पाठ – 1 देखें)

उत्तर: किसी एक प्रश्न का उत्तर आवश्यक है

4.निम्नलिखित प्रश्नों में से किसी एक प्रश्न का उत्तर लगभग 100 से 150 शब्दों में दीजिए।    4

S. No. रोग का नाम लक्षण रोग जनक रोकथाम
1. तपेदिक 1. माइकोबैक्टेरियम ट्यूबरकुलोसिस 2.
2. हेपेटाइटिस 3. Body ache, loss of Appetite Nausea, Eye and skin become yellow in colour.    
3. फीलपांव 5. 6. मच्छर का प्रवेश रोकिये/जालदार लगाकर सोइए मच्छरों को पनपने से रोकिए
4. डेंगू 7. वायरस 8.

उत्तर: किसी एक प्रश्न का उत्तर आवश्यक है

(b) पौधों के जीवित रहने के लिए श्वसन क्यों महत्वपूर्ण है? पौधों में श्वसन प्रक्रिया का वर्णन कीजिए और पौधों तथा प्राणियों की श्वसन प्रक्रिया मैं कोई भी एक अंतर स्पष्ट कीजिए। (पाठ –12 देखें)

उत्तर: श्वसन जटिल कार्बनिक अणुओं का चरणबद्ध ऑक्सीकरण और विभिन्न सेलुलर चयापचय गतिविधियों के लिए एटीपी के रूप में ऊर्जा को छोड़ती है। इसमें जीव और बाहरी वातावरण के बीच गैसों का आदान-प्रदान शामिल होता हैं। हरे और साथ ही गैर-हरे पौधे अपने पर्यावरण से ऑक्सीजन प्राप्त करते हैं और कार्बन डाइऑक्साइड और जल वाष्प को इसमें वापस कर देते हैं। जानवरों के मामले में गैसों का यह मात्र आदान-प्रदान बाहरी श्वसन या श्वास के रूप में जाना जाता है। यह एक शारीरिक प्रक्रिया है। 

जैव रासायनिक प्रक्रिया, जो कोशिकाओं के भीतर होती है और ऊर्जा प्राप्त करने के लिए भोजन का ऑक्सीकरण करती है, सेलुलर श्वसन के रूप में जानी जाती है। विभिन्न एंजाइम (जैव उत्प्रेरक) इस प्रक्रिया को उत्प्रेरित करते हैं। वह प्रक्रिया जिसके द्वारा कोशिकाएं जटिल खाद्य अणुओं से ऊर्जा प्राप्त करती हैं, यह इस बात पर निर्भर करती है कि उनके वातावरण में ऑक्सीजन मौजूद है या नहीं और इसका उपयोग किया जाता है या नहीं । 

जब ऑक्सीजन का उपयोग किया जाता है तो श्वसन को एरोबिक कहा जाता है और जब ऑक्सीजन का उपयोग नहीं किया जाता है तो अवायवीय कहा जाता है। अवायवीय श्वसन में, कोशिका के साइटोसोल में कार्बनिक अणु अपूर्ण रूप से टूट जाते हैं और कोशिका द्वारा उपयोग के लिए ऊर्जा का केवल एक छोटा अंश एटीपी के रूप में कब्जा कर लिया जाता है। 

एरोबिक श्वसन में अवायवीय श्वसन की प्रतिक्रियाओं के बाद ऑक्सीजन की आवश्यकता वाली प्रक्रिया होती है जो एटीपी के रूप में बहुत अधिक मात्रा में ऊर्जा जारी करती है। यह यूकेरियोट्स के माइटोकॉन्ड्रिया में और प्रोकैरियोट्स के मुड़े हुए प्लाज्मा झिल्ली (मेसोसोम) में होता है। पौधों में जानवरों की तरह कोई विशेष श्वसन अंग नहीं होते हैं।

5. निम्नलिखित प्रश्नों में से किसी एक प्रश्न का उत्तर लगभग 100 से 150 शब्दों में दीजिए।   4

(a) संस्थापन को परिभाषित करें। उदाहरण देकर बताइए कि शरीर में यह किस प्रकार कायम रहता है। (पाठ – 12 देखें)

उत्तर: होमोस्टैसिस यह समझने में एक महत्वपूर्ण अवधारणा है कि हमारा शरीर कैसे काम करता है। होमोस्टैसिस दो ग्रीक शब्दों से आया है, पहला ‘होमियो,’ जिसका अर्थ है ‘समान’ और दूसरा ‘स्टैसिस’, जिसका अर्थ है ‘स्थिर’। अर्थात होमोस्टैसिस का अर्थ है चीजों को स्थिर रखना । होमोस्टैसिस एक अ ऐसी प्रणाली की विशेषता है जो अपने आंतरिक वातावरण को नियंत्रित करती है और गुणों की एक स्थिर, अपेक्षाकृत स्थिर स्थिति बनाए रखने की प्रवृत्ति रखती है।

हमारे शरीर में होमोस्टैसिस लगातार होता रहता हैं। अलग अलग तरह के भोजन खाते है, अलग अलग एक्टिविटी करते है लेकिन फिर भी हमारे शरीर की संरचना लगभग समान रहती है। यदि कोई आपके रक्त को महीने के दस अलग-अलग दिनों में खींचता है, तो आपके व्यवहार की परवाह किए बिना ग्लूकोज, सोडियम, लाल रक्त कोशिकाओं और अन्य रक्त घटकों का स्तर काफी स्थिर रहेगा।

(b) आंतरोष्मियो और बाह्योष्मियो मैं अंतर स्पष्ट कीजिए। पर्यावरणीय तापमान में यदि अचानक परिवर्तन आ जाए तो स्पष्ट करें कि इनमें से कौन से प्राणी बेहतर तरीके से जीवित रह पाएंगे। (पाठ – 30 देखें)

उत्तर: किसी एक प्रश्न का उत्तर आवश्यक है

6.नीचे दी गई परियोजनाओं में से कोई एक परियोजना तैयार कीजिए।   6 

(a) (i) कोरोना क्या है। यह बीमारी कैसे फैलती है? 

(ii) कोरोना वायरस से संक्रमित किसी व्यक्ति के क्या लक्षण है?

(iii) क्या कोरोना वायरस एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में फैल सकता है? विस्तार से लिखें।

(iv) कोरोना वायरस से खुद को बचाने के लिए आप क्या कदम उठाते हैं?

(v) दुनियाभर में इस महामारी को रोकने के लिए हममें से प्रत्येक को किस तरह के निवारक उपाय करने होंगे?

उत्तर: (i) कोरोना एक संक्रामक रोग है जो मुख्य रूप से फेफड़ों को प्रभावित करता है, लेकिन यह शरीर के अन्य भागों में फैल सकता है। यह एक वायरस के कारण होता है और ज्यादातर छींकने और खांसने से फैलता है। कोरोना वायरस संक्रमित व्यक्ति के खांसने या छींकने पर हवा में छोड़ी गई बूंदों से फैलता है। यदि आप इन बूंदों को अपने चेहरे, आंख, मुंह या नाक पर सांस लेते हैं तो वायरस आपके सिस्टम में प्रवेश कर सकता है।

(ii) कोरोना से संक्रमित व्यक्ति के लक्षण: कोरोना के लक्षण इससे संक्रमित व्यक्ति पर निर्भर करते हैं। फ्लू से जुड़े सामान्य लक्षणों में बुखार, सिरदर्द, मांसपेशियों में दर्द, सूखी खांसी और गले में खराश, अस्वस्थ महसूस करना और आम तौर पर एक या एक दिन तक अस्वस्थ रहना शामिल हैं।

(iii) वर्तमान साक्ष्य बताते हैं कि वायरस मुख्य रूप से उन लोगों के बीच फैलता है जो एक दूसरे के निकट संपर्क में हैं, आमतौर पर 1 मीटर (छोटी दूरी) के भीतर। एक व्यक्ति संक्रमित हो सकता है जब एरोसोल या वायरस युक्त बूंदों को साँस में लिया जाता है या सीधे आंखों, नाक या मुंह के संपर्क में आता है।

(iv) खुद को कोरोना वायरस से बचाने के उपाय:

a) खांसने, छींकने या बोलने पर संक्रमण के जोखिम को कम करने के लिए अपने और दूसरों के बीच कम से कम 1 मीटर की दूरी बनाए रखें।घर के अंदर अपने और दूसरों के बीच और भी अधिक दूरी बनाए रखें।जितना दूर, उतना अच्छा।

b) मास्क पहनना अन्य लोगों के आस-पास रहने का एक सामान्य हिस्सा बनाएं।

(v) दुनिया भर में कोरोना के प्रकोप को नियंत्रित करने की रणनीतियाँ स्क्रीनिंग, रोकथाम (या दमन) और शमन हैं। कोरोना वायरस के कारण होने वाले बुखार से जुड़े शरीर के ऊंचे तापमान का पता लगाने के लिए थर्मामीटर जैसे उपकरण से स्क्रीनिंग की जाती है।

प्रकोप के शुरुआती चरणों में रोकथाम की जाती है और इसका उद्देश्य संक्रमित लोगों का पता लगाना और उन्हें अलग करना और साथ ही बीमारी को फैलने से रोकने के लिए अन्य उपाय करना है। जब रोग को नियंत्रित करना संभव नहीं होता है, तब प्रयास शमन चरण में चले जाते हैं: प्रसार को धीमा करने और स्वास्थ्य प्रणाली और समाज पर इसके प्रभाव को कम करने के उपाय किए जाते हैं। रोकथाम और शमन उपायों दोनों का संयोजन एक ही समय में किया जा सकता है।

(b) अवशिष्ट पदार्थों से हरित गृह तैयार करना।

(i) आजकल आप हरित गृह और वैश्विक ऊष्मण के बारे में कुछ लिख – पढ़ रहे हैं। आइए, आप स्वयं देखें कि सूर्य की किरणें किस प्रकार हरित गृह को गर्म करती है तथा उसके भीतर रखे पौधों को पर्याप्त गर्म बनाए रखती है।

(ii) इस कार्य के लिए पारदर्शी प्लास्टिक की चादरों के स्थान पर कांच के कुछ टुकड़े, भूरे रंग की सीलोटेप, गत्ते की शीट, कक्ष मैं पानी के परिसंचरण के लिए प्लास्टिक के पाइप, कक्ष को भीतर से ठंडा रखने के लिए एक छोटा सा टेबल – फैन की आवश्यकता होगी।

(iii) उच्चतर माध्यमिक पाठ्यक्रम की अपनी पुस्तक – 3 के मॉड्यूल 6A के पृष्ठ 48 पर दिए गए चित्र 35.9 को देखिए।

(iv) सभी भागों को मिलाजुला कर हरित गृह बना लीजिए। अलग-अलग दिनों में इसे धूप में रखिए। समाचार पत्रों से देखकर वायुमंडल के तापमान को नोट कर लीजिए और एक थर्मामीटर के द्वारा अपने द्वारा निर्मित हरित गृह के भीतर का तापमान ज्ञात कर लीजिए।

(v) किसी माह के विभिन्न दिनों पर अलग-अलग समय का तापमान ज्ञात कीजिए तथा अपने द्वारा प्रेक्षित तापमानो में होने वाले परिवर्तनों का एक तुलनात्मक चार्ट तैयार कर लीजिए।

उत्तर: किसी एक परियोजना का उत्तर आवश्यक है

NIOS SOLVED ASSIGNMENTS FOR 2021 – 2022 (Hindi Medium)

SENIOR SECONDARY Class 12

हिंदी (301)| Hindi 301 NIOS Free Solved Assignment 2021 – 22 (Hindi Medium)

जीव विज्ञान (314) | Biology 314 NIOS Free Solved Assignment 2021 – 22 (Hindi Medium)

इतिहास (315)| History 315 NIOS Free Solved Assignment 2021 – 22 (Hindi Medium)

भूगोल (316) | Geography 316 NIOS Free Solved Assignment 2021 – 22 (Hindi Medium)

राजनीति विज्ञान (317)| Political Science 321 NIOS Free Solved Assignment 2021 – 22 (Hindi Medium)

अर्थशास्त्र (318)| Economics 318 NIOS Free Solved Assignment 2021 – 22 (Hindi Medium)

व्यवसायिक अध्ययन (319) | Business Studies 319 NIOS Free Solved Assignment 2021 – 22 (Hindi Medium)

लेखांकन (320) | Accountancy 320 NIOS Free Solved Assignment 2021 – 22 (Hindi Medium)

गृह विज्ञान (321)| Home Science 321 NIOS Free Solved Assignment 2021 – 22 (Hindi Medium)

मनोविज्ञान (328)| Pshychology 318 NIOS Free Solved Assignment 2021 – 22 (Hindi Medium)

कंप्यूटर विज्ञान (330) | Computer Science 330 NIOS Free Solved Assignment 2021 – 22 (Hindi Medium)

समाजशास्त्र  (331)| Sociology 331 NIOS Free Solved Assignment 2021 – 22 (Hindi Medium)

चित्रकला  (332) | Painting 332 NIOS Free Solved Assignment 2021 – 22 (Hindi Medium)

पर्यावरण विज्ञान (333) | Environmental Science 333 NIOS Free Solved Assignment 2021 – 22 (Hindi Medium)

जनसंचार (335) | Mass Communication 335 NIOS Free Solved Assignment 2021 – 22 (Hindi Medium)

डाटा एंट्री ऑपरेशन (336) | Data Entry Operations 336 NIOS Free Solved Assignment 2021 – 22 (Hindi Medium)

पर्यटन  (337)| Tourism 337 NIOS Free Solved Assignment 2021 – 22 (Hindi Medium)

कानून: एक परिचय  (338) | Introduction to Law 338 NIOS Free Solved Assignment 2021 – 22 (Hindi Medium)

शारीरिक शिक्षा और योग (373)| Physical Education and Yoga 373 NIOS Free Solved Assignment 2021 – 22 (Hindi Medium)

***

Leave a Comment

error: Content is protected !!